दिल्ली के मंत्री बोले- बलात्कारी आतंकवादी होते हैं, सरेआम मार देना चाहिए

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः ‘जो बुलंदशहर में माँ-बेटी के साथ हुआ वो किसी के साथ भी हो सकता है। बलात्कारी आतंकवादी होते हैं। उनके प्रति वही रवैया रखना चाहिए। सरेआम मार देना चाहिए।’ दिल्ली सरकार के सांस्कृतिक मंत्री कपिल मिश्रा ने आज एक ब्लाग में ये बातें लिखकर सनसनी फैला दी। अमूमन किसी सरकार का जिम्मेदार मंत्री ऐसी बातें करने से बचता है लेकिन कपिल मिश्रा ने ये बातें कहीं और डंके की चोट पर कही। कपिल मिश्रा पिछले दिनों बुलंदशहर में हुए वीभत्स गैंगरेप पर अपनी प्रतिक्रिया में ये बात कह रहे थे। उन्होंने लिखा कि देश की राजधानी में पिछले साल 450 नाबालिग लड़कियों के साथ बलात्कार किया गया। देश की आधी आबादी डर के साए में जी रही है। सबसे खराब तो यह है कि अब हम बुलंदशहर जैसी घटनाओँ से चौंकते नहीं हैं। उन्होंने आगे लिखा कि मैं मृत्यु दंड देने के खिलाफ रहा हूँ लेकिन आज मैं कहना चाहता हूँ कि बलात्कारी आतंकवादी होते हैं। इन्हें सरेआम मार देना चाहिए। बढते बलात्कार को रोकने के लिए कपिल मिश्रा ने 4 सुझाव भी दिए। उन्होंने लिखा कि रेपिस्ट के साथ कोई सहानुभूति नहीं होनी चाहिए। मृत्युदंड बहुत जरूरी है। अगर अपनी बच्चियों को हम सुरक्षित नहीं रख सकते तो कम से उन्हें खुद की सुरक्षा के लिए तैयार किया जाना चाहिए। ट्रेनिंग, हथियार के जरिए। अगर कोई उनका बलात्कार करता है तो उसे मारने की छूट हो। रेपिस्ट को सजा देकर उदाहरण पेश किया जाए जिससे अपराध करते हुए इनके हाथ काँपे। कपिल बोले संसद को कानून बनाना चाहिए जिससे बुलंदशहर जैसी घटनाएँ करने वालों को सरेआम मारा जा सके।

Share This Post

Post Comment