कश्मीर हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट ने मांगी सरकार से रिपोर्ट, याचिकाकर्ता को भी दी चेतावनी

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सॉलिसीटर जनरल रंजीत कुमार से कश्मीर घाटी के हालात पर रिपोर्ट मांगी है. कोर्ट ने जम्मू एवं कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी की याचिका पर यह रिपोर्ट तलब की है. सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति टी.एस. ठाकुर, न्यायमूर्ति ए. खानविल्कर तथा न्यायमूर्ति डी. वाई. चंद्रचूड़ की पीठ ने सॉलिसीटर जनरल से रिपोर्ट तलब करने के साथ-साथ याचिकाकर्ता को आगाह किया कि अगर उन्होंने कोर्ट की प्रक्रिया का कोई राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश की तो कोर्ट इससे सख्ती से निपटेगी. प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति ठाकुर ने जम्मू एवं कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के प्रमुख भीम सिंह से कहा, “यह सुनिश्चित करें कि आप अदालत की कार्यवाही का कोई राजनीतिक लाभ नहीं लेंगे. यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको हमारी भारी नाराजगी का सामना करना पड़ेगा.” कश्मीर में आठ जुलाई को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद नौ जुलाई से भड़की हिंसा व तनाव में अब तक दो पुलिसकर्मियों और 48 आम नागरिकों सहित 50 लोगों की जान जा चुकी है.

Share This Post

Post Comment