महिला को जान देकर चुकानी पड़ी यौन संबंध के लिए दोस्त को ना कहने की कीमत

रायपुर, छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में 18 जुलाई को नागझर के जंगल में मिली अज्ञात महिला की लाश के बाद इसकी केस की जांच कर पुलिस ने उसके कत्ल की गुत्थी सुलझा ली है. महिला का कत्ल किसी और ने नहीं बल्कि उसके ही दोस्त ने किया था. पुलिस ने आरोप को गिरफ्तार कर लिया है. महिला का नाम सविता जोशी है और वह राजिम थाना के चौबेबांधा गांव की निवासी है.  घटना से एक दिन पहले सविता अकेले गरियाबंद गई थी, वहां उसे उसका पुराना दोस्त मोहन यादव मिला. वहां से दोनों पहले पास के एक मंदिर गए और फिर बस में बैठकर बारूला पहुंचे. कुछ देर वहां रुकने के बाद फिर वहां से पैदल कमार डेरा पहुंचे. यहां दोनों ने शराब पी. उसके बाद मोहन ने उसके साथ शारीरिक संबध बनाने की इच्छा जताई, लेकिन सविता ने इससे इनकार कर दिया.  इसके बाद सविता पैदल अपने घर जाने के लिए निकल पड़ी. इससे गुस्साए मोहन ने बीच रास्ते में ही उसे पत्थर मारकर बेहोश कर दिया. उसके बाद उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए. घटना के कुछ देर बाद जब सविता को होश आ गया तो उसने ये सारी वारदात पुलिस को बताने की धमकी दी. सविता की धमकी से मोहन डर गया और जेल जाने के डर से उसने सविता के गमछे से ही उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी. पांडुका थाना प्रभारी पौरुष पुर्रे ने बताया कि पुलिस ने जब इस मामले की तफ्तीश शुरू की तो महिला के मोबाइल की कॉल डिटेल से पुलिस आरोपी तक पहुंची और फिर इस केस से पर्दा हट गया. फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

Share This Post

Post Comment