हॉस्टल के खाने में मिले कीड़े, तो सड़ा हुआ गेहूं हो रहा था यूज

डूंगरपुर, राजस्थान/नगर संवाददाताः राजस्थान के आदिवासी बहुल डूंगरपुर जिले में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की ओर से संचालित छात्रावासों में व्यवस्थाओं की पोल उस समय खुल गई जब डूंगरपुर विधायक देवेन्द्र कटारा ने जिला मुख्यालय पर स्थित प्रतिभावान जनजाति छात्रावास का औचक निरीक्षण किया. विधायक कटारा द्वारा बुधवार को किए गए निरीक्षण में जहां छात्रावास अधीक्षक छात्रावास से नदारद मिला तो वहीं कई प्रकार की अव्यवस्थाएं विधायक को देखने को मिलीं. निरीक्षण के दौरान विधायक को बच्चों के बनाए गए पोहे के नाश्ते में कीड़े मिले तो वहीं स्टोर में सड़ा हुआ गेंहू मिला. जिस पर विधायक कटारा ने काफी नाराजगी व्यक्त की. इधर, छात्रावास में रह रहे छात्रों ने भी विधायक को शिकायतें करते हुए छात्रावास अधीक्षक के अधिकतर छात्रावास से नदारद रहने के आरोप लगाए. इधर, छात्रावास के निरीक्षण के बाद विधायक जिला कलेक्टर से मिलने पहुंचे और उन्होंने छात्रावास निरीक्षण में मिली अव्यवस्थाओं से कलेक्टर सुरेन्द्र सोलंकी को अवगत करवाया. उन्होंने कलेक्टर को छात्रावास में वितरण किए जा रहे सड़े गेंहू को भी दिखाया और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. कलेक्टर ने मामले की जांच करवाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन विधायक को दिया.

Share This Post

Post Comment