किशोरी से रेप कर बनाया था MMS, दो नाबालिगों को नए जुवेनाइल एक्ट के तहत 10-10 साल की कैद

देवास, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के देवास में जिला अदालत ने नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म कर वीडियो बनाने वाले दो नाबालिग आरोपियों को 10-10 साल की सजा सुनाई है. फैसला नए जुवेनाइल जस्टिस एक्ट 2015 के तहत दिया गया. इस नए कानून के तहत सजा दिए जाने का संभवतः देश में यह पहला मामला है. दोनों आरोपी पीड़िता के छोटे भाई के दोस्त थे. उपसंचालक अभियोजन एएस भंवर व एडीपीओ आशा शाक्यवार ने संवाददाताओं को बताया कि आरोपियों की उम्र 16 वर्ष से अधिक होने के साथ उनकी मानसिक स्थिति को मुकदमा चलाने लायक मानते हुए नए जुवेनाइल एक्ट के तहत फैसला दिया गया. मामला जिले के टोंकखुर्द इलाके पाडल्या गांव में 15 जनवरी का है. उस दिन 16 साल की पीड़िता अपने घर में अकेली थी. दोनों आरोपियों ने इसी बात का फायदा उठाते हुए घर में घुसकर पीड़िता से दुष्कर्म कर उसका वीडियो बना लिया. आरोपियों ने पीड़िता को धमकी दी थी कि यदि उसके घटना के बारे में किसी को बताया तो वीडियो वायरल कर देंगे. सामूहिक दुष्कर्म के दिन ही शाम को माता-पिता के घर लौटने पर लड़की ने उन्हें आपबीती सुनाई. इसके बाद माता-पिता उसे पुलिस थाने लेकर गए, जहां आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया. आरोपी 21 साल की उम्र होने तक बाल सुधारगृह में रहेंगे. इसके बाद उन्हें जेल में शिफ्ट किया जाएगा. दोनों आरोपी 21 साल की उम्र पूरी होने तक परिवीक्षा अधिकारी की निगरानी में रहेंगे.

Share This Post

Post Comment