विभागीय अधिकारियों के खिलाफ भूख हड़ताल पर बैठे कर्मचारी

पौेड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः पौड़ी के विद्युत विभाग से दो संविदा कर्मियों को बिना कारण बताये नौकरी से हटाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. जिसके चलते आज विभाग के बाहर ही उत्तरखंड़ विद्युत कर्मचारी संगठन के बैनर तले संविदा कर्मचारियों ने विभागीय अधिकारियों के खिलाफ ही भूख हड़ताल शुरु कर दी है. भूख हड़ताल पर बैठे संविदा कर्मियों का कहना है कि विभाग में अधिकारियों के तरफ से संविदा कर्मचारियों का उत्पीड़न किया जाता है. जिसकी शिकायत करने पर उसे नौकरी से ही निकल दिया जाता है. उन्होने कहा कि पौड़ी से दो संविदा कर्मियों को बिना कारण बताए निकाल दिया गया है. जिसके बाद कर्मचारियों द्वारा 17 दिनों तक धरना प्रदर्शन भी किया गया लेकिन अभी तक उन्हे बाहर निकाले गए कर्मचारियों को बहाल करने का कोई आश्वासन तक नहीं मिला है. उन्होने कहा कि जब तक बिना कारण बताए हटाए गए कर्मचारियों को बहाल नहीं किया जाता है तब तक उनकी भूख हड़ताल जारी रहेगी. विद्युत विभाग से निकाले गए दो कर्मचारियों का कहना है कि उन्हे बिना कोई कारण और नोटिस दिए नौकरी से हटा दिया गया है. जिसके बाद आज उनकी अर्थिक स्थिति काफी खराब हो चुकी है. उन्होने कहा कि नौकरी से हटाने के बाद से उसके घरों में खाने के लाले पड़ गए हैं. जिसके चलते उन्होने आज से भूख हड़ताल शुरु कर दी है. साथ ही उन्होने कहा कि जब तक उनकी मांग को पूरा नहीं किया जाता यानि उन्हे दोबारा से नौकरी में नहीं रखा जाता है तब तक उनका ये आन्दोलन चलता रहेगा. भूख हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों को जिले के सभी सविंदा कर्मियों का समर्थन भी मिला हुआ है.

Share This Post

Post Comment