ट्रक राइडर आंतकी ने ली 84 लोगों की जान

अंतर्राष्ट्रिय/नगर संवाददाताः गुरुवार को फ्रांस की नीस शहर में एक आतंकी हमले में 84 लोगों की जान चली गई, जबकि 150 से ज्यादा घायल हुए हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक एक आतंकी असले से भरा ट्रक लेकर भीड़ में घुस गया। ट्रक से उतरते ही आतंकी ने सरेआम लोगों पर तड़ातड़ गोलियां चलाईं, जिसमें कई मासूम लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों घायल हो गए। द गार्जियन की एक रिपोर्ट के मुताबिक हमले में मृत लोगों के शव की पहचान कर उसे परिजनों को सौंपा जा रहा है। वहीं घायलों को शहर के एक अस्पताल में ही भर्ती कराया गया है। घायलों में 50 लोगों की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है। लोग बैस्टिल डे के मौके पर आतिशबाजी देखने के लिए जुटे थे। फ्रेंच अधिकारियों ने इसे एक हमला बताया है। एक अंग्रेजी वेबसाइट की खबर के मुताबिक एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि ड्राइवर ने भीड़ में ट्रक घुसाने के बाद लोगों पर गोलियां भी बरसाईं। इसके बाद हर तरफ लाशें ही लाशें बिछ गईं। मौके पर पहुंची पुलिस ने आतंकी को ढेर कर दिया है। फिलहाल किसी तरह के बंधक संकट की सूचना नहीं है। मामले की जांच का जिम्मा एंटी टेररिस्ट जांच अधिकारियों को दिया गया है। एविनोन गए फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने हमले की सूचना मिलने के बाद पेरिस लौटने का फैसला किया है। वो इस हमले को लेकर बैठक करेंगे। रीजनल प्रेसिडेंस क्रिस्टियन एस्ट्रोजी ने बताया कि जिस ट्रक को भीड़ पर चढ़ाया गया, वो हथियारों और ग्रेनेड से भरा हुआ था। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नीस में हुए इस आतंकी हमले की कड़ी निंदा की है। साथ ही उन्होंने हमले की जांच में फ्रांस को मदद की पेशकश भी की है। दूसरी तरफ फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी ने हमले पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर हमले में लोगों के मारे जाने पर शोक व्यक्त किया है। फ्रांस के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता पियरे-हेनरी ब्रेंडिट ने हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि इस हमले में दर्जनों लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है। हमले की सूचना मिलते ही पुलिस और कई एंबुलेंस मौके पर पहुंच गई हैं। मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। फिलहाल किसी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

 

Share This Post

Post Comment