ई-मित्र के माध्यम से मिलेगा गांवों में पेंशन एवं मनरेगा भुगतान

चित्तौड़गढ़, राजस्थान/चंद्रप्रकाशः राज्य सरकार की महत्वपूर्ण कई योजनाओं के सीधे भुगतान अब लाभार्थियों के खातों में मिलने लगा है। इस योजना को और सषक्त बनाने के लिए हर ग्राम पंचायत स्तर पर स्थापित ई-मित्र, बैंक बी.सी., माईक्रो ए.टी.एम. के माध्यम से गांव स्तर पर ही लोगों को भुगतान मिल सकेगा। कार्यालय में जिला कलक्टर ईन्द्रजीत सिंह ने ई-मित्र पर प्रकाश डालते हुए बताया कि ई-मित्र को सरकार ने एक महत्वपूर्ण कड़ी माना है जिससे लोगों को विभिन्न योजनाओ का सीधा भुगतान उनके खातों में मिल रहा है। उन्होंने बताया कि आगामी माह से हर ग्राम पंचायत स्तर पर भुगतान उत्सव मेला का आयोजन किया जाएगा। जिसमेें पटवारी, ग्राम सेवक तथा बैंक बी.सी. एवं माईक्रो ए.टी.एम. कियोस्क धारक इस उत्सव में मौजूद रहते हुए विभिन्न योजनाओं में लाभार्थियों को भुगतान किया जाएगा। जिला ग्रामीण विकास प्रकोष्ठ अभिकरण सभागार में आयोजित दो दिवसीय ई-मित्र कार्यशाला में प्रदेश स्तर से आए सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के संयुक्त निर्देशक आर.के. शर्मा ने जिले भर के ई-मित्र संचालकों को ई-मित्र के माध्यम से सरकार की 273 तरह की सर्विस के बारे मेें जानकारी देते हुए बताया कि ई-मित्र के माध्यम से अब लोगों को गांव स्तर पर ही कई योजनाओं का लाभ मिलने लगा है। पेंशन, मनरेगा, डी.बी.टी. योजना, भामाशाह जैसी महत्वपूर्ण योजना का सीधा लाभ ग्रामीणों को गांवों मे ही मिल रहा है। बैंक बी.सी. और माईक्रो ए.टी.एम. कियोस्क धारकों द्वारा पेंशन, डी.बी.टी. योजना का सीधे गांव स्तर पर ही भुगतान लाभार्थियों को किया जा रहा है। कार्यशाला में हाल ही में लांच हुए न्यू ई-मित्र पोर्टल के बारे में प्रदेश स्तर से आए विभाग के अधिकारियों पावर प्वाइंट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से प्रषिक्षण दिया। कार्यशाला में सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्त निर्देशक राजेन्द्र कुमार भट्ट, उप निर्देशक राजेन्द्र सिंघल, सहायक निदेशक सांख्यिकी राजेन्द्र शर्मा, प्रोग्रामर प्रवीण जैन सहित जिले के ई-मित्र एल.एस.पी. सी.एम.एस. के जिला प्रतिनिधि सलमान मन्सूरी, अक्क्ष एल.एस.पी. के जयदीप जादोन एवं कई जिले के एल.एस.पी. मौजूद थे।

Share This Post

Post Comment