दो पुलिसवालों को युवक की हत्या में उम्रकैद

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः हत्या के एक मामले में सत्र अदालत ने दो पुलिसवालों को दोषी करार दिया है। एडीजे रमेश कुमार यादव ने दोनों पुलिस कांस्टेबल भोलानाथ भास्कर व जय प्रकाश सिंह को उम्र कैद की सजा सुनाई है। दोनों पर 50-50 हजार का जुर्माना भी लगाया है। दोनों पुलिसवालों पर लाइसेंसी राइफल से शिवरात्रि पर मंदिर की व्यवस्था देख रहे एक व्यक्ति की हत्या का इल्जाम है। हत्या का यह मामला वर्ष 1991 का है। उस समय यह दोनों पुलिसवाले थाना गाजीपुर में तैनात थे। सरकारी वकील दुष्यंत मिश्र व शैलेंद्र यादव के मुताबिक 12 फरवरी, 1991 को महाशिवरात्रि के दिन खुर्रमनगर चौराहे के पास शिव मंदिर में कांस्टेबल भोलानाथ व जय प्रकाश की ड्यूटी लगी थी। दोनों सिपाही वहां कुर्सी पर बैठे थे। स्थानीय निवासी रामनारायन व उनका भतीजा कल्लू उर्फ महादेव मंदिर की व्यवस्था में लगे थे। भीड़ के मद्देनजर कल्लू ने सिपाहियों को वहां से अपनी कुर्सी हटाने के लिए कहा। इस बात पर पुलिसवाले नाराज हो गए। कांस्टेबल जयप्रकाश ने कल्लू को थप्पड़ जड़ दिया। जबकि विरोध पर कांस्टेबल भोलानाथ ने लाइसेंसी रायफल से कल्लू को गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल कल्लू की बलरामपुर अस्पताल में मौत हो गई थी।

Share This Post

Post Comment