चाट खाकर घर लौट रही थी किशोरी, दो अधेड़ों ने अकेले में बनाया हवस का शिकार

ग्वालियर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में बाइक पर लिफ्ट देने के बहाने दो अधेड़ों ने 16 साल की एक नाबालिग लड़की के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया है. हवस का शिकार बनाने के बाद आरोपी पीड़िता की हत्या करने जा रहे थे, लेकिन पुलिस के गश्ती दल ने दोनों का दबोच लिया. जानकारी के मुताबिक, शहर के पुरानी छावनी इलाके में 16 वर्षीय किशोरी श्रेया (परिवर्तित नाम) अपनी बहन के साथ रहती है. श्रेया देर शाम को चाट खाकर घर लौट रही थी. एक जगह जब वह कुछ देर तक टेम्पो के इंतजार में खड़ी हुई तो उसके पास एक बाइक आकर खड़ी हुई. बाइक पर सवार पुरानी छावनी निवासी कमल बाथम और बल्लू शाक्य ने उसे घर छोड़ने के बहाने बैठा लिया. दोनों अधेड़ किशोरी ने पुरानी छावनी के बजाए स्टोन पार्क के पास ले आए जहां कमल बाथम ने युवती के साथ दुष्कर्म कर दिया. इस दौरान बल्लू निगरानी कर रहा था. एसपी हरिनारायण चारी मिश्रा ने बताया कि, दुष्कर्म के बाद दोनों ने किशोरी श्रेया की पिटाई भी की और पुलिस के डर से उसकी हत्या करने ले जाने लगे. इसी बीच गश्त कर रही पुलिस टीम वहां अचानक से पहुंच गई. पुलिस को देखकर दोनों आरोपी भागने लगे. यह देख पुलिसकर्मियों ने पीछा करते हुए उन दोनों को धर-दबोचा. इसके बाद पास में ही किशोरी के मिलते ही पूरी मामले की कलई खुल गई. पुलिस की मानें तो आरोपी कमल बाथम के बेटे की रविवार को ही सगाई का कार्यक्रम था, लेकिन बेटे की सगाई के दिन कमल रेप के आरोप में पुलिस के हत्थे चढ़ गया.

Share This Post

Post Comment