जाट आरक्षण पर लगे स्टे मामले पर 11 जुलाई को होगी सुनवाई

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः जाट आरक्षण पर लगी अंतरिम रोक हटवाने को लेकर सरकार की याचिका पर शुक्रवार को भी सुनवाई नहीं हो सकी. व्यस्तता के चलते रेगुलर बेंच ने आज इस मामले की सुनवाई करने से इनकार कर दिया और सुनवाई की अगली तारीख 11 जुलाई मुकर्रर कर दी. दरअसल इससे पहले 4 जुलाई को हुई सुनवाई में अदालत ने सरकार का पक्ष सुनने के बाद जिरह को जारी रखते हुए जाट आरक्षण पर लगी अंतरिम रोक हटाने से इनकार कर दिया था और 7 जुलाई अगली तारीख तय की थी लेकिन गुरुवार को अवकाश होने के चलते आज इस पर सुनवाई होनी थी. 13 जून को हुई सुनवाई के दौरान पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में सरकार की ओर से कहा गया था कि जाटों के आरक्षण संबंधी विधेयक को चुनौती देने का याचिकाकर्ता का आधार कमजोर है. विधेयक विधानसभा से पास कराया गया है. ऐसे में इस पर कोई कानूनी अड़चन नहीं है. हरियाणा सरकार ने हाईकोर्ट से मांग की है कि कोर्ट चाहे तो स्टे हटाते हुए आगामी भर्तियों और शिक्षण संस्थानों में होने वाले प्रवेश को इस याचिका पर आने वाले अंतिम निर्णय पर निर्भर कर दे. गौरतलब है कि आरक्षण पर हाईकोर्ट ने 21 जुलाई तक अंतरिम रोक लगा रखी है जिसके खिलाफ सरकार ने अपील दायर कर रखी है. लेकिन फिलहाल सरकार और जाटों को कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है.

Share This Post

Post Comment