पढ़े-लिखे ससुरालियों की करतूत, बेटी पैदा होने पर महिला को घर से निकाला

मेरठ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः भले ही सरकार बेटियों को बढ़ावा देने के लिए खूब जोर लगा रही हो लेकिन आज भी कुछ लोग बेटी को अभिशाप समझते हैं. ऐसा ही कुछ मेरठ में सामने आया जहां पढ़े लिखे ससुरालियों ने बेटी होने के चलते महिला के साथ मारपीट शुरू कर दी और उसे घर से निकाल दिया. पीड़िता ने अब पुलिस से इन्साफ की गुहार लगाई है. दरअसल पीड़िता मोनिका शर्मा की शादी लगभग एक साल पहले मेरठ के कोतवाली क्षेत्र के छेदीवाड़ा कालोनी निवासी तरुण से हुई थी. मोनिका का आरोप है कि बेटी के जन्म होने के बाद उसके ससुरालीजन उसके साथ लगातार दुर्व्यवहार कर रहे हैं. उसके साथ मारपीट कर उसका उत्पीड़न किया जा रहा है. उसने यह भी बताया कि उसके ससुरालीजनों ने बेटे के चक्कर में उसका कई बार अल्ट्रासाउंड भी कराया और डॉक्टर भी बदले. आज पीड़िता ने एक समाजसेवी संस्था के साथ मेरठ पुलिस कार्यालय पाहुंच कर अपनी और बेटी की सुरक्षा की गुहार लगाई. अहम बात ये है कि पीड़ित महिला का ससुर मेरठ के एक नामी इंस्टिट्यूट में जीएम है. लेकिन इसके बावजूद पढ़े लिखे घर में इस तरह बेटी होने की सजा पीड़िता को दी जा रही है. वहीं पीड़िता की तरफ से की गई इस शिकायत पर पुलिस अधिकारियों ने संबंधित थाने को इस मामले में जांच के निर्देश दे दिए हैं. अधिकारियों का कहना है कि मामले की जांच कर उचित कार्यवाई की जायेगी.

Share This Post

Post Comment