कवर्धा मेंं डायरिया से दो की मौत, 40 से ज्यादा प्रभावित

कवर्धा, छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले के अलग-अलग गांवों में डायरिया का प्रकोप फैला हुआ है. यहां डायरिया से अब तक दो लोगों की मौत हो गई है. इसके अलावा 40 से ज्यादा लोग अभी डायरिया से प्रभावित हैं. लिहाजा, डायरिया ग्रस्त पीड़ितों का बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा गांव में ही कैंप लगाकर पीड़ितों की जांच की जा रही है, हालांकि इस बाबत बोड़ला एसडीएम जी. एल. यादव ने प्रभावित ग्राम का दौरा भी किया, जहां उन्होंने लोगों को साफ-सफाई के प्रति जागरूक रहने की अपील की है. इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग को हर पल अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं. ग्रामीण राधेलाल का कहना है कि गांव में चारों तरफ गंदगी का आलम है ऐसे में मॉनसून में बारिश के होने से स्थिती और भी ज्यादा खराब हो गई है. जगह-जगह गड्ढ़ों और नालियों में बरसात के पानी भर गए हैं, जिसमें कीड़े और कई तरह की बीमारियां पनप रही हैं. इतना ही नहीं नालों के वहीं सारे गंदे पानी सड़कों पर भी बह रहे हैं. ऐसे में बीमारी फैलने का खतरा और भी ज्यादा बढ़ गया है. इधर एक दूसरे ग्रामीण दिनेश साहू की माने तो पेयजल के लिए उपयोग किए जाने वाले कुंए, हैंडपंप के पास बरसात का काफी पानी जमा हो गया है. इस कारण पीने का पानी भी दूषित हो रहा है. ऐसे में डायरिया से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या भी अब धीरे-धीरे बढ़ने लगी है. लिहाजा, ग्रामीण दहशत में हैं, जिस मुहल्ले में डायरिया फैला है वहां बच्चे,बड़े-बुजुर्ग सभी इससे प्रभावित हैं और इसलिए हर कोई उस मुहल्ले में जाने से डर रहा है. ऐसे में बच्चे और बड़े दूसरे रास्ते से बाहर आना-जाना कर रहे हैं. वहीं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार गांव मे अब तक 170 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा चुका है, जिसमें 39 लोगों को डायरिया से प्रभावित पाया गया है.

Share This Post

Post Comment