मध्य प्रदेश में शराब पीकर वाहन चलाने वालों के लायसेंस होंगे रद्द

अनूपपुर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददताः मध्य प्रदेश के गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह कहा है कि शराब पीकर वाहन चलाने वालों के लिए अभियान चलाकर कार्रवाई की जाये. उन्होंने कहा कि ऐसे वाहन चालकों के चालान बनाने के बाद लायसेंस रद्द करवाने की कार्रवाई की जाये. गृहमंत्री ने अधिकारियों को पुलिस बल की शारीरिक फिटनेस पर ध्यान देने को कहा. उन्होंने कहा कि इसकी प्लानिंग की आवश्यकता है. थाना-स्तर पर स्पोर्ट्स एक्टिविटी शुरू करके फिटनेस को बेहतर किया जा सकता है. उन्होंने पुलिस-कर्मियों के पौष्टिक भोजन की व्यवस्था पर बल दिया. उन्होंने कहा कि जिला-स्तर पर अच्छे भोजन की कैंटिन होना चाहिए. उन्होंने कानून-व्यवस्था पर चर्चा के दौरान आने वाले त्यौहारों पर सुदृढ़ सुरक्षा व्यवस्था के लिए कहा. उन्होंने कहा कि आतंकवाद और नक्सलवाद से हमारा प्रदेश सुरक्षित है, फिर भी इस दिशा में और सतर्क रहने की आवश्यकता है. गृहमंत्री ने कहा कि अवैध शराब बिक्री पर सख्त कार्रवाई की जाये. संबंधित शराब ठेकेदार के खिलाफ भी कार्यवाही की जाये. भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य के विकास का आधार वहां की कानून-व्यवस्था है. कानून-व्यवस्था सुदृढ़ होने से राज्य की एक अलग पहचान बनती है और विकास सुचारू रूप से होता है. उन्होंने कहा कि सिंहस्थ में पुलिस के काम से उनकी प्रतिष्ठा पूरी दुनिया में बढ़ी है. सिंहस्थ में पुलिस की व्यवहार-कुशलता प्रशंसनीय रही. उन्होंने कहा कि पुलिस के क्राउड मैनेजमेंट की सराहना हुई है. पुलिस महकमे की अफसरों ने गृहमंत्री को डायल-100 योजना की सफलता, शासन-स्तर पर नवीन पद, थाना-चौकी में बल की वृद्धि, आवास एवं प्रशासकीय भवन निर्माण आदि के लंबित प्रस्तावों के बारे में अवगत करवाया गया. बैठक के शुरू में पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ऋषि शुक्ला ने स्वागत किया. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस की गौरवशाली परपंरा रही है. प्रदेश में सूचीबद्ध गिरोह नहीं है. नक्सलवाद पर पूरी तरह काबू पाया गया है. सिमी गिरोह को नाकाम किया गया है. उन्होंने कहा कि पुलिस हर समय नई चुनौती का सामना करती है और नए तरीकों से सफलता भी प्राप्त करती है. डीजीपी ने आश्वस्त किया कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था मजबूत बनायी रखी जाएगी.

Share This Post

Post Comment