भोजन माताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

देहरादून, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः भोजन माताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. मानदेय बढ़ोत्तरी मांग को लेकर भोजन माताओं ने ज्वांइट मजिस्ट्रेट कार्यालय के बहार धरने पर बैठकर जमकर नारेबाजी की और राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार भोजन माताओं की उपेक्षा कर रही है. उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मामूली से मानदेय से भोजन माताओं को गुजर बसर करना भारी पड़ रहा है आलम यह है कि दो हज़ार के मानदेय पर भोजन माता अपना गुजारा नहीं कर सकती.  भोजन माताओं ने चेतावनी देते हुए कहा कि समय रहते हुए मानदेय पांच हज़ार ना किया गया तो वो आरपार की लड़ाई लड़ने को मजबूर हो जाएंगी. साथ ही उन्होंने कहा कि यदि मांगे नहीं मानी गई तो 10 जून को देहरादून में अनिश्तिकालीन हड़ताल पर चले जाएंगी जिससे छात्रों को भारी परेशानियों को सामना करना पड़ सकता है. गौरतलब है कि इससे पहले अप्रैल विभाग की ओर से एक महीने का अतिरिक्त मानदेय दिया गया हथा. भोजन माताओं को साल में दस महीने का मानदेय दिया जाता है, लेकिन पहली बार उन्हें एक महीने का अतिरिक्त मानदेय दिया गया था.

Share This Post

Post Comment