रिटायर्ड बैंक कैशियर ने आरोप लगने के बाद फांसी लगाकर की आत्महत्या

इंदौर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में रिटायर्ड बैंक कैशियर ने आरोप लगने के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. कैशियर ने सुसाइट नोट में किसी के कहने पर रुपए निकालने की बात लिखी है. परिजनों का आरोप है कि साजिश के तहत फसाया गया था. इसी बात से आहत होकर कैशियर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है. दरअसल, फडनीस कॉलोनी स्थिल एसबीआई बैंक से 30 अप्रैल को रिटायर्ड होने के बाद रमेश चंद्र कैथवास बतौर समाज सेवा खजराना गणेश मंदिर में दान पेटी से निकलने वाले राशि की गिनती का काम करने लगे थे. सोमवार को कैथवास पर दो लाख रुपए निकालने का आरोप लगा था, जिसके बाद पुरे मामले की जांच नगर निगम कमीश्नर मनीष सिंह ने मंदिर प्रबंधन के जिम्मेदार को सौंपी थी. वहीं, परिजनों का आरोप है की कैथवास पर झूठा आऱोप लगाया गया है. विजय नगर पुलिस ने मौके से सुसाइड नोट जब्त कर शव को पोस्टमार्टम के लिए एमवाय अस्पताल भेज दिया है. एएसआई सीएस परमार के मुताबिक, कैथवास खजराना गणेश मंदिर में रुपए गिनने का काम करते थे. सोमवार देर रात घर पऱ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. मृतक के बेटे ने पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी है. फिलहाल, पूरे मामले की जांच की जा रही है.

Share This Post

Post Comment