योजना के तहत पांच आदर्श ग्रामों में होंगे 26 करोड़ रूपए के विकास कार्य

रायपुर, छत्तीसगढ़/मयूर जैनः केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली ने कहा है कि खनिज से मिलने वाले राजस्व का उपयोग उस क्षेत्र के विकास में होना चाहिए। इसी उद्देश्य से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने खनिज क्षेत्रों के समग्र विकास के लिए ‘प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना’ बनाई है। इसी योजना के अंतर्गत देश में सबसे पहले छत्तीसगढ़ के सुदूर दंतेवाड़ा जिले के पांच गांवों में विकास कार्यो की शुरूआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि देश में जहां भी खनिज संसाधन उपलब्ध है वह क्षेत्र पिछड़ा हुआ है, इसलिए ऐसे क्षेत्रों के विकास के लिए प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना शुरू की गई है। श्री जेटली आज रायपुर में आयोजित पहली राष्ट्रीय खनिज संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, केन्द्रीय खनिज एवं इस्पात मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और केन्द्रीय खनिज एवं इस्पात एवं राज्य मंत्री श्री विष्णु देव साय विशेष रूप से उपस्थित थे।

Share This Post

Post Comment