राजधानी की अनीता ने कबड्डी में दिखाया दम, देश की टॉप खिलाड़ी में शामिल

रायपुर, छत्तीसगढ़/मयूर जैनः राजधानी के लोहार पारा में गरीब परिवार में जन्म लेने वाली अनिता विश्वकर्मा ने कबड्डी में वह कर दिखाया, जो कि लड़कों के लिए भी मुश्किल होता है। इस परंपरागत खेल में लड़कों का वर्चस्व काफी पुराना है, लेकिन इस धाक को तोड़ते हुए प्रदेश में ही नहीं बल्कि देश में अपनी अलग पहचान बनाई। घर के लोगों के लाख मना करने के बाद भी खेल के प्रति जुनून कम नहीं हुआ। पिछले 15 वर्षों से नेशनल लेवल पर छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व कर रही हैं। बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाले अनिता ने अपना पूरा जीवन खेल को समर्पित कर दिया। पिछले वर्ष पिता के गुजरने के बाद घर की बड़ी जिम्मेदारी भी आ गई। पिछले 15 वर्षों से छत्तीसगढ़ के लिए नेशनल में जबरदस्त परफार्मेंस देने वाली खिलाड़ी ने अब भारतीय महिला कबड्डी टीम में चयन होने का सपना संजो रखा है, हालांकि कई बार घर के मुश्किल हालात इन्हें आगे बढऩे से रोकते हैं। अनिता ने कहा कि घर के हालात और जिम्मेदारियां कई बार रूकावट बनती है, लेकिन देश के लिए खेलने की ललक और पिता के नहीं रहने के बाद भी उनके सपनों को पूरा करने की चाहत के लिए कड़ी मेहनत कर रही है।

Share This Post

Post Comment