100 रुपए कमाने के चक्कर में छात्र की करंंट लगने से मौत

कानपुर नगर, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददताः कानपुर के पनकी इलाके में 100 रुपए कमाने के चक्कर में एक छात्र की करेंट लगने से मौत हो गई. बरसात के दौरान ट्रेन पर कम्प्यूटर कोचिंग के पोस्टर चिपकाने के चक्कर में छात्र को करेंट लग गया, जिससे उसकी मौत हो गई. पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है. बता दें, कि आशीष पनकी स्टेशन के पास बने नितिन गुप्ता की कोचिंग में पढ़ते हैं. कोचिंग संचालक बच्चों से कोचिंग के पोस्टर लगवाता है और इसके बदले में हर बच्चे को वह 100 रुपए देता है. कोचिंग संचालक नितिन गुप्ता ने अपने दो साथियों के साथ आशीष और आलोक को पनकी स्टेशन पर ट्रेन में पोस्टर चिपकाने के लिए भेजा. बरसात हो रही थी इसलिए दोनों ने मना कर दिया तो कोचिंग संचालक के साथियों ने दोनों को मारने की धमकी दी, जिससे डर कर वह ट्रेन पर पोस्टर चिपकाने लगे. आलोक को ट्रेन के ऊपर चढ़कर पोस्टर चिपकाने के लिए कहा तो वह ट्रेन पर चढ़ने लगा जिससे उसको करेंट लग गया जिससे वह झुलस गया. ये देख कोचिंग संचालक ने आलोक को एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती करवाया और वहां से फरार हो गया. मृतक की मां का आरोप है कि कोचिंग संचालक नितिन गुप्ता पढ़ाने के नाम पर मजदूरी करवाता है. यह लोग बच्चों से पोस्टर चिपकवाते है उनके लड़के से ट्रेन के ऊपर पोस्टर चिपकाने को कहा तो उसने मना किया तो उससे जबरदस्ती करवाया.

Share This Post

Post Comment