दुष्कर्म के बाद 10 साल के बच्चे की हत्या

ग्वालिय, मध्य प्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में 10 साल के बच्चे की हत्या के मामले में नया खुलासा हुआ है. पीएम रिपोर्ट में सामने आया है कि हत्या से पहले बच्चे के साथ दुष्कृत्य किया गया था. वहीं आरोपियों ने अब मृतक के पिता को भी फोन कर जान से मारने की धमकी दी है. 28 जून को जिले के माउखेड़ा गांव के जंगल से बरामद किए गए अनूप गुर्जर के शव और उसके बाद हुए घटनाक्रम में अब नया मोड़ आ गया है. बताया जा रहा है कि आरोपियों ने पहले अनूप के साथ दुष्कृत्य किया था, जिसके बाद पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या कर दी गई. इसके बाद आरोपियों ने लाश को छुपाने के लिए जमीन में दबा दिया. फरार चल रहे आरोपियों ने अब अनूप के पिता को फोन कर धमकी दी है कि अभी एक मारा है, अब तुझे भी नहीं छोड़ेंगे. पीड़ित पिता की मानें तो हत्या के मुख्य आरोपी गोपाल गुर्जर ने उसे फोन पर धमकाते हुए कहा है कि जब वो टीआई को गोली मार सकते हैं तो उसे भी नहीं छोड़ेंगे. धमकी की सूचना मिलने के मामले में पुलिस का कहना है कि कसते शिकंजे के कारण आरोपी दहशत में हैं, जिस वजह से वो बच्चे के पिता को धमकाते हुए उसे डराने की कोशिश कर रहे हैं. गौरतलब है कि 30 जून को घाटीगांव थाने की टीम अनूप की हत्या के आरोपियों की धरपकड़ के लिए महुआखेड़ा गांव पहुंची थी. टीआई रमेश शाक्य की अगुवाई में टीम ने संदेहियों को सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन इसी बीच गोपाल सिंह ने कट्टे से पुलिस टीम पर फायर कर दिया. फायर की गई गोली सीधे टीआई रमेश शाक्य के पैर में लगी. जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें ग्वालियर रेफर कर दिया गया. इस बीच टीआई को गोली मारने के बाद हत्या के तीनों आरोपी भाग खड़े हुए. टीआई को गोली मारने वाले तीनों आरोपियों गोपाल गुर्जर, सतीश गुर्जर और रामू गुर्जर की गिरफ्तारी पर दस-दस हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया है. एसपी ने कहा कि आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Share This Post

Post Comment