सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी

रायपुर, छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः सूरजपुर के प्रतापपुर ब्लॉ़क के स्कूलों का हाल-बेहाल है. जहां शिक्षकों की कमी का खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ रहा है. ब्लॉक के अधिकांश स्कूल या तो शिक्षकविहीन हैं या फिर एकल शिक्षक से स्कूल चलाए जा रहे हैं. इन स्कूलों की कक्षाओं में बच्चे शिक्षक के आने का इंतजार करते रहते हैं, ब्लॉक के ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में कोङाकु,पंडों और गोंड जनजाति के बच्चे हैं. जिनमें शिक्षा को लेकर काफी उत्साह है. लेकिन बात करें अगर प्रशासन कि तो शायद इन गांवों के निरीक्षण के लिए किसी भी आला अधिकारी के पास समय ही नही है. वही सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी ने स्कूलों में जल्द ही शिक्षकों कि कमी कि समस्या को दूर करने का आश्वासन दे रहे हैं. हालांकि लोगों का कहना है कि पिछले कई सालों से सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है. लेकिन आज तक कोई कदम नहीं उठाया नहीं गया है. सरकारी स्कूलों को लेकर शासन की ओरे से दिखाई जा रही उपेक्षा से अभिभावक अब अपने बच्चों को निजी स्कूलों में भेजने हो जाते हैं. वहीं सवाल इस बात का है जब सरकार की ओर से शिक्षा को लेकर इतने बड़े दावे किए जाते हैं तो फिर शासन की ओर से इतनी घोर लापरवाही बरती जा रही है.

Share This Post

Post Comment