किसानों को दिए जा रहे ऋण पर इस वर्ष 2 प्रतिशत ब्याज अनुदान

अजमेर, राजस्थान/नगर संवाददाताः राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस (2 जुलाई) के अवसर पर प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए सहकार से सद्भाव और सफलता की कामना की है. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि समय पर ऋण चुकाने वाले काश्तकारों के फसली ऋण की ब्याज राशि सरकार वहन कर रही है. सहकार किसान कल्याण योजना में दिए जा रहे ऋणों पर इस वर्ष 2 प्रतिशत ब्याज अनुदान देने का निर्णय लिया गया है. राज्य सरकार वर्षा के दौरान ऋण, खाद, बीज और अन्य सहकारी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है. राजे ने अपने संदेश में कहा कि समूचे विश्व में 2 जुलाई को 94वें अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस और 22वें यूएन डे ऑफ कॉपरेटिव्स का आयोजन किया जा रहा है. इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस का सूत्र वाक्य ‘सहकारिता-टिकाऊ भविष्य के लिए कार्य करने की शक्ति’ रखा गया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सहकारिता हमारी सनातन सांस्कृतिक परम्परा है. देश में कृषि, रिण, आदान, चीनी, हैण्डलूम और मत्स्य आदि क्षेत्रों में सहकारी संस्थाओं के योगदान से उल्लेखनीय कार्य किया जा रहा है. हमारे देश में एक सबके लिए और सब एक के लिए की भावना सदियों से देश और दुनिया को एकता के सूत्र में बांधती चली आ रही है. उन्होंने कहा कि राज्य में सहकारिता के माध्यम से कम ब्याज दरों पर अथवा ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराना हमारी प्राथमिकता है. दीर्घकालीन कृषि निवेश ऋणों पर 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान दिया जा रहा है.

Share This Post

Post Comment