महिला ने लगाया छेड़छाड़ का अरोप

रायपुर, छत्तीसगढ़/मयूर जैनः छत्तीसगढ़ में मुंगेली की पुलिस लाइन में तैनात एक महिला आरक्षक ने बिलासपुर रेंज के आईजी पवन देव पर गंभीर आरोप लगाए हैं। इसकी शिकायत शुक्रवार को बिलासपुर के चकरभाटा थाने में देते हुए महिला आरक्षक ने हवाला दिया कि आईजी के आधी रात के बाद लगातार फोन से वह भयभीत है। आईजी उसे रात को घर पर आने का दबाव बनाते हैं और फोन पर अश्लील बातें करते हैं। यहां तक कहते हैं कि तुम्हारा फिगर अच्छा है। तुम्हे मेरे रेंज ऑफिस में लगवा देता हूं। इस महिला आरक्षक ने अपनी शिकायत के साथ बातचीत की तीन ऑडियो क्लिपिंग भी पुलिस को सौंपी है। ये ऑडियो उस समय की हैं, जब यह महिला आरक्षक केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के 17 जून के बिलासपुर दौरे के लिए बिलासपुर आई थी। इन ऑडियो में आईजी नशे जैसी हालत में महिला आरक्षक पर आधी रात को बंगले पर आने का दबाव बना रहे हैं। बिलासपुर पुलिस से न्याय की उम्मीद नहीं होने के बाद पीडि़त महिला आरक्षक शुक्रवार दोपहर बाद रायपुर पहुंची। उसने बताया कि वह आईजी के खिलाफ पुलिस महानिदेशक से मिलेगी। उसका कहना है, मैं पुलिस विभाग में बहुत छोटी कर्मचारी हूं और आईजी उच्च अधिकारी हैं। इस शिकायत के बाद मेरे साथ कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है, इसकी जिम्मेदारी आईजी की होगी।उधर, पुलिस ने बताया कि महिला आरक्षक की शिकायत ले ली गई है। इस पर क्या कार्रवाई करनी है, इसके लिए वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा जा रहा है। आईजी पवन देव ने पत्रिका से कहा कि जिस महिला आरक्षक ने ये शिकायत की है वह बेबुनियाद है। हकीकत यह है कि इस महिला आरक्षक के एक टीआई से संबंध हैं जिसे गुरुवार को ही नौकरी से बर्खास्त कर दिया है

Share This Post

Post Comment