इस्तांबुल एयरपोर्ट पर आत्मघाती हमले में 38 लोगों की मौत

अंतर्राष्ट्रिय/नगर संवाददाताः तुर्की में इस्तांबुल का अतातुर्क इंटरनेशनल एयरपोर्ट मंगलवार को धमाकों से हिल गया. एयरपोर्ट पर दो आत्मघाती बम विस्फोट और फायरिंग की घटना को अंजाम दिया गया, जिसमें 38 लोगों की मौत हो गई, जबकि 120 घायल हो गए. एयरपोर्ट में तीन हमलावर घुसे थे. इनमें से दो ने एंट्री गेट को निशाना बनाते हुए खुद को उड़ा लिया. भारतीय समय के मुताबिक रात करीब साढ़े ग्यारह बजे यह हमला किया गया. तुर्की के जस्टिस मिनिस्टर ने बताया कि हमलावरों ने पहले सुरक्षाबलों पर एके-47 से हमला किया. तुर्की के प्रधानमंत्री ने इन हमलों के पीछे ISIS का हाथ होने का शक जताया है. साथ ही पूरी दुनिया से मिलकर आतंकवाद का सामना करने की अपील की है. अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि इस विस्फोट में अब तक 38 लोगों की मौत हुई है और 120 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. इस हमले पांच पुलिसकर्मियों की भी मौत हो गई. मिली जानकारी के मुताबिक एयरपोर्ट के चेकप्वाइंट पर दो आत्मघाती धमाके किए गए. प्रधानमंत्री मोदी ने हमले को बताया अमानवीय इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर इस्तांबुल धमाकों की कड़ी निंदा की है. प्रधानमंत्री ने इसे आमनवीय बताते हुए घटना की कड़ी निंदा की है. उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति सहानुभूति जताई है.

Share This Post

Post Comment