दलितों की तुलना सूअर से करने’ वाले बीजेपी MLA के खिलाफ FIR दर्ज

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने महाराष्ट्र में बीजेपी के एक विधायक द्वारा दलितों की तुलना कथित तौर पर सूअर से करने के मामले में महाराष्ट्र सरकार और राज्य पुलिस प्रशासन से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है तथा संबंधित जनप्रतिनिधि के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के लिए भी कहा है. अनुसूचित जाति आयोग ने डोंबीवली से बीजेपी विधायक रवींद्र चव्हाण के इस कथित विवादित बयान को लेकर तथ्यात्मक रिपोर्ट की मांग करते हुए कल महाराष्ट्र सरकार, राज्य के पुलिस महानिदेशक और ठाणे के पुलिस आयुक्त को नोटिस जारी किया. आयोग के अध्यक्ष पी एल पूनिया ने बताया, ‘‘देश में दलितों पर लगातार हमले हो रहे हैं. अत्याचार और भेदभाव की घटनाएं बढ़ रही हैं. ऐसे में एक जनप्रतिनिधि की ओर से दलितों की तुलना सूअर से करना बेहद गंभीर और अत्यंत निंदनीय विषय है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है और इस विधायक के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कहा है.’’ पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन से रिपोर्ट मिलने के बाद आयोग आगे की कार्रवाई करेगा. मीडिया की खबरों के अनुसार हाल ही में ठाणे में स्मार्ट सिटी से संबंधित एक कार्यक्रम के दौरान चव्हाण ने मोदी और फडणवीस सरकार की ओर से किए जा रहे विकास कार्य का उल्लेख करते हुए दलितों की तुलना कथित तौर पर सूअर से की थी.

Share This Post

Post Comment