सीएनजी से दौड़ेंगे दुपहिया वाहन

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः प्रदूषण को नियंत्रित करने के प्रयासों के तहत सरकार ने सीएनजी से चलने वाले दुपहिया वाहनों की शुरूआत की है। तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने गुरूवार को राजधानी के सीजीओ परिसर स्थित इंद्रप्रस्थ गैस (आईजीएस) स्टेशन से इस परियोजना का शुभारंभ किया। यह परियोजना फिलहाल प्रयोग के तौर पर शुरू की जा रही है और यदि यह सफल रहती है तो पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में बहुत मददगार होगी। इस मौके पर पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी मौजूद थे। आईजीएल और गेल ”हवा बदलो अभियान चला रहे हैं और इसी के तहत सीएनजी से चलने वाले दुपहिया वाहनों की शुरूआत की गई है। राजधानी दिल्ली में प्रदूषण को लेकर निजी चौपहिया वाहनों की सम-विषम योजना लागू किए जाने पर दुपहिया वाहनों को मिली छूट को लेकर सवाल खड़े किए जाते रहे हैं। प्रदूषण के लिए सबसे अधिक दुपहिया वाहनों को जिम्मेदार माना जाता है। राजधानी में ही 55 लाख के करीब दुपहिया वाहन हैं और कुल प्रदूषण में इनकी हिस्सेदारी 30 प्रतिशत है।
सरकार की तरफ से गुरूवार को समाचार पत्रों में दिए गए विज्ञापनों में यह दावा किया गया है कि सीएनजी से 75 प्रतिशत कम हाइड्रोकार्बन और 20 प्रतिशत कार्बन मोनोऑक्साइड का कम उत्सर्जन होगा। दुपहिया वाहन में ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एआरएआई) द्वारा स्वीकृत सीएनजी रिट्रोफिटमेंट किट लगाई जायेगी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस स्कूटर का निर्माण होंडा कंपनी करेगी।

Share This Post

Post Comment