बेटे की चाहत मे विवाहिता को उतारा मौत के घाट

बुलंदशहर, युपी/नगर संवाददाता: बुलंदशहर में शादी के 16 साल बाद बेटे की चाहत में ससुरालियों ने विवाहिता को जलाकर मार डाला. मृतका की दो बेटियां थी और पति समेत ससुरालीजन मृतका से बेटे के लिए आये-दिन मारपीट करते थे. मृतका का पति बेटे की चाहत में उसका 5 बार गर्भपात भी करा चुके था. देवीपुरा की निवासी अन्नू की शादी 31 मई-2000 को बुलंदशहर सिटी के मनोज बंसल से हुई थी. एक कार कंपनी में दो जिलों का मार्केटिंग आफिसर मनोज को अन्नू से दो बेटियां हुई. लेकिन शादी के 16 साल बाद भी उसकी बेटे के लिए चाहत कम न हो सकी. मनोज दूसरी शादी करना चाहता था और इसीलिए कई वर्षो से अन्नू के साथ मारपीट कर रहा था. मनोज की इस हरकत में उसके परिवारवाले पूरा साथ देते थे. लेकिन 14 जून 2016 की सुबह मनोज ने अन्नू को मिट्टी का तेल डालकर जला डाला. अन्नू के भाई धनेश जिंदल ने बताया कि बेटे की चाहत में मनोज और उसका परिवार अन्नू के 5 बार गर्भवती होने पर उसका अबार्शन करा चुका था. अन्नू ने यह बात अपने परिवार वालों को भी बताई, लेकिन मनोज हर बार उसके साथ यह ज्यादती करता था. अन्नू की 15 साल की बेटी लतिका की मानें तो उसके पिता माँ से इसी बार को लेकर झगड़ते थे. रात में शराब पीकर उन्हें पीटते थे और उन्हें अबार्शन के लिए मजबूर किया जाता था. दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में 6 दिन तक जिंदगी-मौत से जूझते हुए अन्नू की 20 जून को मौत हो गयी. पुलिस ने अन्नू के पति समेत आठ लोगो के खिलाफ हत्या का अभियोग पंजीकृत किया है. अन्नू के मौत के 48 घंटे बीत जाने के बाद भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है. एसपी सिटी राममोहन सिंह ने बताया कि वारदात के ठीक बाद से पूरा परिवार घर में ताला डालकर भाग गया है. पुलिस विवेचना कर रही है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दो पुलिस टीमें कई स्थानों पर दबिशें दे चुकी है.  दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नही जायेगा.

Share This Post

Post Comment