आसमान से हुई मौत की बारिश, एक ही परिवार से हुई 4 लोगों की मौत

चतरा, झारखंड/नगर संवाददताः चतरा जिला के कुंदा थाना क्षेत्र में आसमान से हुई मौत की बारिश के कारण एक ही परिवार के तीन लोग सहित चार लोगों की मौत हो गयी. मंगलवार शाम हुई वज्रपात की घटना से पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है. कुंदा थाना के हल्दियाटांङ गांव में हुए इस प्राकृतिक हादसे की वजह से अर्जुन पड़हिया का पूरा परिवार लगभग खत्म हो गया है. वज्रपात से अर्जुन पड़हिया, उसकी पत्नी रावती देवी एवं एक बच्चे की मौत हो गयी है. इसके अलावे प्रेम पड़हिया का पुत्र भुटन बैगा की भी मौत हो गयी है. जंगल और पहाड़ों से घिरे छोटे से गांव में आदिम जनजाति के पड़हिया एवं बैगा परिवारों की बस्ती है. आदिम जनजाति के बैगा परिवार के सभी लोग शादी समारोह के बाद एक ही घर में थे. कुछ ही देर पहले परिवार की बेटी को विदा किया गया था. तभी ठनका के रूप में आसमान से मौत बरसी और शादी का माहौल मातम में बदल गया. कुंदा प्रखंड के बीडीओ जय पाल सोय ने प्रभावित गांवों में तड़ित चालक लगाने एवं प्रत्येक मृतक के परिजनों को आपदा राहत से डेढ लाख रुपये बतौर मुआवजा देने का आशवासन दिया है. इस गांव में वर्ष 2014 में भी वज्रपात से तीन लोगों की मौत हो गयी थी और इसके अलावे आस-पास के गांवों में भी कई लोगों की मौत हो चुकी है. हल्दिया टांड़ गांव में तकरीबन पचास आदिम जनजाति परिवार के लोग हैं. लेकिन प्राकृतिक आपदा से हो रही मौत से इसकी संख्या लगातार घटती जा रही है.

Share This Post

Post Comment