आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हुआ एमपी का लाल

जबलपुर, मध्य प्रदेश/नगर संवाददाताः जबलपुर का होनहार सपूत जम्मू काश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए देश के लिए शहीद हो गया. मंगलवार को शहीद को अंतिम विदाई दी गई, जिसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए. देश की सुरक्षा करते हुए शहीद होने वाली मध्य प्रदेश के लाल रामेश्वर पटेल का पार्थिव शव मंगलवार सुबह उनके गृह ग्राम सिहोरा तहसील के खुडावल में लाया गया. जहां उसे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई. शहीद रामेश्वर पटेल की अंतिम यात्रा मे पूर्व मंत्री अजय विश्नोई, विधायक नीलेश अवस्थी सहित सेना, पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे. शहीद की शहादत को नमन करते हुए स्वास्थ्य राज्य मंत्री शरद जैन ने कहा कि प्रदेश और जिले के लिए बहुत दुखद घटना है, जब हमारा एक लाड़ला सपूत देश के लिए कुर्बान हो गया. स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने रामेश्वर परिवार को आश्वासन दिया है कि वो परिवार की मदद के लिए खुद मुख्यमंत्री से बात करेंगे. सिहोरा तहसील के ग्राम खुड़ावल मे रहने वाले सैनिक रामेश्वर पटेल 2003 में सेना की भर्ती हुआ थे. 18 जून को जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में सेना के 22 ग्रेनेडियर्स में पदस्थ रामेश्वर पटेल की टीम का आतंकियों से सामना हो गया. इस दौरान आतंकियों से लोहा लेते हुए वो शहीद हो गए थे.

 

Share This Post

Post Comment