राहुल बन सकते है यूपी विधान सभा चुनाव से पहले कांग्रेस के अध्यक्ष

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः कांग्रेस का एक बड़ा धड़ा यूपी समेत बाकी राज्यों में अगले साल प्रस्तावित विधानसभा चुनाव  से पहले राहुल गांधी को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष देखना चाहता हैं। माना जा रहा है कि इस दिशा में पार्टी जल्द कदम उठा सकती है। सोनिया गांधी को प्रचार प्रमुख और संरक्षक के तौर पर पेश किए जाने पर भी विचार करने की बात पार्टी में अब सुनाई पड़ने लगी है। रविवार को राहुल के जन्मदिन के मौके पर खुशी जताने पहुंचे कार्यकर्ता भी उपाध्यक्ष को अध्यक्ष बनाए  जाने के पक्ष में बात करते दिखे। हालांकि अधिकृत तौर पर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं। अगले  साल देश के यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, गोवा और मणिपुर में चुनाव होने हैं। कांग्रेस के सामने चुनौती होगी कि उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में  वह अपनी सरकार को बरकरार रखे। यूपी, पंजाब, गुजरात आदि में  सरकार बनाए । इसके लिए कमजोर कांग्रेस में  जान फूंकने की जरूरत होगी। माना जा रहा है कि कांग्रेस में जान फूंकने के लिए राहुल गांधी को खुद जिम्मेदारी लेकर मोर्चा  संभालना होगा। कांग्रेस में भी एक बड़ा धड़ा लगातार राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने की मुहिम चलाए हैं, लेकिन बुजुर्ग  ब्रिगेड़ के विरोध और रोड़ा डालने के बाद हर बार सारी मुहिम ठंड़ी पड़ जाती है। पार्टी  सूत्रों के मुताबिक अब पार्टी  में एक राय बनाने की कोशिश की जा रही है राज्यों में होने  वाले चुनावों से पहले राहुल गांधी की ताजपोशी अध्यक्ष के पद पर हो जाए। राहुल के अध्यक्ष बनने के बाद सोनिया गांधी की भूमिका पर भी पार्टी  में विचार होने का दावा कार्यकर्ता  कर रहे हैं। हालांकि मामला गांधी परिवार से जुड़ा  होने के कारण  कोई भी कांग्रेसी खुलकर कुछ नहीं बोल रहा है, लेकिन 24 अकबर रोड पहुंचने वाले कार्यकर्ताओं में से ज्यादातर राहुल गांधी को बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने के पक्ष में दिखे।

Share This Post

Post Comment