राजस्थान को 1 सप्ताह और करना पड़ेगा मानसून का इंतजार

अलवर, राजस्थान/नगर संवाददाताः गर्मी से जूझ रहे राजस्थान को मानसूनी मेघ अभी और इंतजार करवा सकते हैं। पहले अनुमान लगाया गया था कि 18 जून से एक या दो दिन पहले मानसून राजस्थान में दस्तक दे देगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। बताया जा रहा है कि इस बार मानसून राजस्थान में एक सप्ताह देरी से प्रवेश करेगा। वहीं दूसरी ओर मानसून केरल में 16 जून से सक्रीय हो गया है और केरल के तटीय इलाकों तक पहुंच गया है।  मौसम विभाग की मानें तो अगर मानसून सही रफ्तार से चलता रहा तो अगले एक सप्ताह में राजस्थान में प्रवेश कर जाएगा। हालांकि इसको लेकर 19 जून को स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। खबरों के अनुसार भूगोलविद डॉ. नरपतसिंह राठौर का कहना है कि राजस्थान में मानसून 22 से 26 जून के बीच में आने की संभावना है। गोवा से राजस्थान तक उसे आने में 7 से 8 दिन का समय लग सकता है। वहीं उनका मानना है कि बंगाल की खाड़ी की ओर आने वाले बादल अगर जल्दी पहुंच जाते हैं तो भरतपुर व धौलपुर में पहले बारिश हो सकती है। इस बार जयपुर, उदयपुर, अजमेर कोटा में 108 प्रतिशत बारिश हो सकती है, वहीं जोधपुर और बीकानेर संभाग में सामान्य बारिश का योग रहेगा। आपको बता दें कि प्रदेश में सामान्य तौर पर 17 या 18 जून तक मानसून शुरू हो जाता है, लेकिन इस बार केरल में हुई देरी का असर देश के अन्य हिस्सों में भी दिखाई दे सकता है। गौरतलब है कि प्रदेश में इस भीषण गर्मी का दौर जारी है। सीमावर्ती इलाकों में पारा 45 डिग्री के ऊपर पहुंच रहा है। लोगों का गर्मी के चलते जीना मुहाल हो रहा है। ऐसे में हर कोई आसमान की ओर ताक रहा है कि इंद्र देवता कब मेहरबान होंगे।

Share This Post

Post Comment