लखनऊ में पेयजल की गुणवत्ता नापने पर चौंकने वाले नतीजे आए सामने

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः लखनऊ में स्वास्थ्य विभाग और जल संस्थान की ज्वाइंट टीम ने पेयजल की गुणवत्ता नापने के लिए जो टेस्ट किया उसमें चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं। अभियान के पहले ही दिन लिए गए 20 में से 11 सैम्पल फेल हो गए हैं। इनमें 10 सैम्पल पुराने लखनऊ से लिए गए थे। जबकि शहर के सबसे पॉश इलाकों में शुमार गोमतीनगर के विशाल खंड से लिया गया नमूना भी लैब टेस्ट में दगा दे गया। फेल सैम्पल को आगे जांच के लिए रैफरल लैब भेजा गया है। पानी में क्लोरीन की स्तर मानक से कम होने से पानी में बैक्टीरिया के पनपने की आशंका ज्यादा रहती हैं। फिर भी जल संस्थान के जीएम दावा कर रहे हैं कि फिक्र की कोई बात नही। क्लोरीन की मात्रा कम होने से पेयजल की गुणवत्ता पर असर नही पड़ रहा।

Share This Post

Post Comment