आंगनवाड़ी केंद्र में मिला महिला का शव

धौलपुर जिले के सैपऊ थाना इलाके के झीलरा गांव में 53 बर्षीय महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का शव आंगनवाड़ी केंद्र पर संदिग्ध अवस्था में मिलने से गांव में सनसनी फैल गई। मले की सूचना पाकर मौके पर पंहुची पुलिस से ही पूर्व मृतका के शव को जलाकर परिजन मौके से घर को खाली कर गायब हो गए। सैपऊ थाना पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि मोबाइल के जरिए पुलिस को सूचना मिली कि गांव झीलरा के आंगनवाड़ी केंद्र में गांव की ही महिला सुनीता पत्नी गजेंद्र उम्र 53 की मौत हो गई है, जिसे परिजनों द्वारा खेतों मे जलाया जा रहा है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने गांव पहुंचकर मामले की तहकीकात की तो खेतों मे चिता जलती हुई दिखाई दी। पुलिस ने मृतका के घर जाकर देखा तो परिजन घर को सूना छोड़कर मौके से गायब मिले। मामले में पुलिस ने पड़ोसियों से भी जानकारी जुटाई है लेकिन पुलिस अभी तक मामले की गहराई तक नहीं पहुंच पाई है। उधर, ग्रामीण सूत्रों की मानें तो मृतका सुनीता के गांव के ही किसी व्यक्ति से अवैध संबंध थे जिसकी भनक उसके पति गजेंद्र को लग गई, जिसको लेकर दोनों पति और पत्नी मे कहासुनी हो गई जिसके कारण सुनीता ने आत्महत्या कर ली। घटना को लेकर थाना पुलिस ने घर एवं आंगनवाड़ी केंद्र की तलाशी लेकर सुबूत जुटाए हैं। फिलहाल मृतका के परिजन फरार हैं पुलिस ने घटना के साक्ष्य लेकर बिना तहरीर के जांच शुरू कर दी है।

Share This Post

Post Comment