बदनाम करने और सरकार को अस्थिर करने की साजिश

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को आरोप लगाया कि कुछ स्वयंसेवी संगठन (एनजीओ) और कालाबाजारी करने वाले उन्हें बदनाम करने और उनकी सरकार को अस्थिर करने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों के गले यह बात उतर नहीं सकी है कि एक चाय वाला देश का प्रधानमंत्री बन गया है। मोदी ने यहां किसानों की सभा में कहा, आप देख रहे होंगे कि मुझ पर हर वक्त हमले होते रहते हैं। वे इस बात को पचा नहीं पा रहे हैं कि मोदी कैसे प्रधानमंत्री बन गया, कैसे एक चायवाला प्रधानमंत्री बन गया। उन्होंने ये बातें यूरिया की कालाबाजारी के बारे में बात करने के दौरान कही। उन्होंने कहा कि 2014 में कुछ मुख्यमंत्रियों और सांसदों ने मुझे यूरिया की कमी के बारे में लिखा था। प्रधानमंत्री ने कहा कि नीम लगी यूरिया के आने के बाद से अब ऎसा नहीं है। उन्होंने कहा, यूरिया पर नीम के लेपन से कुछ लोगों को दिक्कत हुई, लेकिन यह किसानों के लिए बहुत फायदेमंद होगी। हम जो करते हैं, उससे कुछ लोगों को दिक्कत होती है, लेकिन किसानों को लाभ होता है। उन्होंने कहा कि कुछ स्वयंसेवी संस्थाओं से विदेश से मिलने वाली वित्तीय मदद के बारे में पूछा गया। इसके बाद वे उनके खिलाफ हो गए।

Share This Post

Post Comment