आरोपी फारूख भाणा को एटीएस ने मुंबई से किया अरेस्ट

अहमदाबाद, गुजरात/नगर संवाददाताः गुजरात एटीएस के हाथ बुधवार को बडी कामयाबी हाथ लगी। गोधरा कांड में लंबे समय से फरार चल रहे मुख्य आरोपी फारूख भाणा को एटीएस ने मुंबई से अरेस्ट कर लिया। भाणा 2002 में हुई इस घटना के बाद से फरार चल रहा था। गिरफ्तारी के वक्त वह मुंबई के पास छिपा था। गोधरा कांड में साबरमती एक्सप्रेस की एस6 बोगी में आग लगा दी गई थी, जिसमें 59 लोग जिंदा जलकर मर गए थे। मरने वाले ज्यादातर कारसेवक थे, जो अयोध्या से वापस लौट रहे थे। शुरूआत में इस कांड में 107 आरोपी थे, जिनमें से पांच की प्रक्रिया के दौरान मौत हो गई। आठ अन्य किशोर थे, जिन पर किशोर न्यालय में मुकदमा चलाया गया। इस मामले में कुल 94 लोगों को आरोप बनाया गया है। भाणा इस कांड का मुख्य आरोपी है। साल 2011 में एक विशेष अदालत ने गोधरा कांड में 31 लोगों को दोषी पाया था, जबकि 63 लोगों को रिहा कर दिया था। 31 दोषियों में से 11 को फांसी की सजा और 20 को उम्रकैद की सजा सुनाई गई। विशेष अदालत मे माना था कि यह कांड सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दिया गया। मामले की सुनवाई फिलहाल ऊपरी कोर्ट में चल रही है। गोधरा कांड के बाद बडे पैमानेा पर गुजरात में भडक़ गई थी, कई जगह पर सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं हुई थीं, जिसमें एक हजार से ज्यादा लोग मारे गए थे और काफी तादाद में लोग घायल हुए थे।

Share This Post

Post Comment