नवजात लाश के साथ लापरवाही

इंदौर, मध्य प्रदेश/नगर संवाददाताः मध्यप्रदेश में इंदौर के जिला अस्पताल में लापरवाही का ऐसा नजारा सामने आया है, जिसे सुनकर आपकी भी रूंह कांप उठेगी। वहीं, कलेक्टर पी नरहर ने कहा कि बच्ची के इलाज में लापरवाही और शव के साथ इस तरह का हादसा होना बेहद गंभीर मामला है। उन्होंने कहा कि दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक टीका लगने के बाद तीन दिन की नवजात की जान चली गई। इस पर परिजनों का गुस्सा फूट पडा। पोस्टमॉर्टम कहां हो, इसे लेकर डॉक्टर एक-दूसरे पर जिम्मेदारी डालते रहे। तब तक जिला अस्पताल की मोर्चरी में बच्ची के शव को चींटियां खाती रहीं। वहीं, परिजन जल्द पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल प्रशासन के सामने गिडगिडाते रहेे। लापरवाही का यह नजारा सामने आने के बाद अस्पताल प्रशासन की काफी आलोचना हो रही है। गौरतलब है कि जिला अस्पताल में तीन दिन पहले जन्मी बच्ची को टीका लगाने के बाद तेज बुखार आया और उसने सोमवार सुबह पांच बजे उसने दम तोड़ दिया। बच्ची की मौत की जानकारी लगते ही परिजनों ने हंगामा कर दिया। उनका आरोप था कि स्टाफ की लापरवाही से बच्ची की जान गई। उसे बुखार आया, लेकिन नर्स ने ध्यान नहीं दिया। इसके बाद बच्ची का पोस्टमॉर्टम करवाने को लेकर अस्पताल प्रशासन और परिजन आमने-सामने हो गए। आखिरकार शाम पांच बजे एमवायएच में बच्ची का पोस्टमार्टम हो पाया।

Share This Post

Post Comment