मोहम्मद यासिन मलिक को पांच दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया

श्रीनगर, जम्मू कश्मीर/नगर संवाददाताः केएलएफ अध्यक्ष मोहम्मद यासिन मलिक को आज पांच दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. मलिक के खिलाफ 29 वर्ष पुराने टाडा मामले में यह कार्रवाई की गयी है. जेकेएलएफ के एक प्रवक्ता ने कहा कि मलिक को गत शनिवार को गिरफ्तार किया गया था. मलिक को टाटा अदालत में पेश किया गया. न्यायाधीश ने दलीलें सुनने के बाद आदेश दिया कि मलिक को 11 जून तक केंद्रीय जेल भेज दिया जाए. प्रवक्ता ने कहा कि मलिक के खिलाफ 29 वर्ष पुराने टाडा के एक मामले में मामला दर्ज किया गया है. यह मामला तत्कालीन मुस्लिम युनाइटेड फ्रंट (एमयूएफ) के लिए एक रैली आयोजन को लेकर है. एमयूएफ ने 1987 में राज्य में विधानसभा चुनाव लड़ा था. मामले के आरोपियों में मलिक, हुर्रियत कान्फ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी, दिवंगत अब्दुल गली लोन, दिवंगत काजी निसार और दिवंगत गुलाम मोहम्मद शाह शामिल थे. मलिक को गत शनिवार को गिरफ्तार किया गया जब उन्होंने अपने मैसुमा आवास से लाल चौक तक एक रैली निकालने का प्रयास किया

Share This Post

Post Comment