आग लगने से हुआ तेज धमाका

मथुरा, युपी/अनिल कुमारः मथुरा के जवाहर बाग में पिछले कई दिनों से गोला बारूद इकटठा किया जा रहा था। कब्जाधारियों के पास एके-47 तक थीं। बाग के सभी एंट्री प्वाइंट पर माइंस तक बिछा ली गईं थीं। भारी गोला बारूद के साथ पेट्रोल बम भी कैंप में था। जब आग लगी तो इनके कैंप में तेज धमाका हुआ। ढाई साल से जवाहरबाग पर कब्जा जमाए बैठे लोगों के पास गोला बारूद के साथ ही अवैध असलहों का भी जखीरा पहुंच गया था। यह हथियार कोई एक दो दिन में तो इकटठा किए नहीं गए होंगे बल्कि पिछले कई दिनों से इसकी कवायद चल रही थी। लोगों ने मथुरा में बड़ी वारदात को अंजाम देने की पूरी प्लानिंग कर ली थी। खास बात यह है कि किसी को कानोंकान खबर तक नहीं हुईं। खुफिया एजेंसियों के भी कान खड़े नहीं हुए। जिस तरह से इन लोगों ने पुलिस पर हमला किया उससे साफ है कि यहां भारी गोला बारूद था। कारतूस भी बरामद किए गए हैं। पेट्रोल बम का भी भंडार इनके पास था।
कब्जाधारियों के पास कई लग्जरी गाडिय़ां थीं। यहां इन लोगों ने अपने तंबू गाढ़ रखे थे। इन तंबू में गोला बारूद था। जब पुलिस और कब्जाधारियों के बीच फायरिंग शुरू हुई तब इनके टेंट में भी आग गई थी। आग लगने के साथ जो गाडिय़ां यहां खड़ी थीं वह भी धमाके साथ उड़ गई। बताया जाता है कि कई कब्जाधारियों के चीथड़े इन गाडिय़ों के साथ उड़ गए हैं। बताया जाता है कि करीब चार लोगों की मौत यहां धमाके के साथ हुई थी।

Share This Post

Post Comment