नेता सुदेश पासवान और उनके चचेरे भाई की गोली मारकर हत्या

पटना, बिहार/नगर संवाददाताः बिहार में हत्याएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. कल गया में राम विलास पासवान की पार्टी के नेता सुदेश पासवान और उनके चचेरे भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई. विपक्ष अब जंगलराज का आरोप लगाते हुए नीतीश सरकार से इस्तीफा मांग रहा है. इसके साथ ही बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की जा रही है. गया के डुमरिया में एलजेपी के प्रखंड अध्यक्ष सुदेश पासवान की हत्या दिनदहाड़े कर दी गई. बाइक पर सवार बदमाशों ने सुदेश के काफिले पर फायरिंग कर उनकी जान ले ली. इस फायरिंग में सुदेश के चचेरे भाई सुनील पासवान को भी लगी. अस्पताल में सुनील की भी मौत हो गई. बदमाशों ने काफिले के साथ जा रही एक कार, एक मिनी ट्रक और एक बाइक को आग लगा दी. सुदेश पासवान गया में डुमरिया के काचर पंचायत की मुखिया माया कुमारी के पति थे. माया कुमारी दोबारा पंचायत चुनाव में मुखिया प्रत्याशी के तौर पर किस्मत आजमा रही हैं. माया कुमारी के लिए ही सुदेश प्रचार कर रहे थे तभी ये वारदात हुई. हत्या का शक माओवादियों पर है. वारदात वाली जगह से एक पर्चा भी मिला है जिसपर भाकपा माओवादी संगठन की तरफ से सुदेश पासवान को पुलिस मुखबिर बताते हुए मारने की बात लिखी हुई है. इस पर्चे में पुलिस को भी धमकी दी गई है. दिनदहाड़े हुए इस हत्याकांड पर फिर नीतीश सरकार घिर गई है. एलजेपी ने राष्ट्रपति शासन लगाने मांग की है तो बीजेपी ने नीतीश का इस्तीफा तक मांग लिया है. इस हत्याकांड के बाद बिहार पुलिस और सीआरपीएफ की टीम लगातार छापे मार रही है. गया में ही इससे पहले छात्र आदित्य की हत्या हुई थी. पत्रकार राजदेव हत्याकांड पर भी नीतीश सरकार विपक्ष के निशाने पर हैं

Share This Post

Post Comment