ग्राम सोढादङा मे विशनोई समाज का श्रमदान

ग्राम सोढादङा मे विशनोई समाज का श्रमदान

बीकानेर, राजस्थान/रामेश्वर लाल शर्माः ग्राम सोढादड़ा मे कल्ड़िया नाड़ि मे विशनोई समाज ने श्रमदान किया। दिनाक 16.05.2016 को सुबह 5 बजे से पुरे दिन 15 ट्रेक्टरों व तगारी पावड़े से श्रमदान किया। करीब 70 मीटर लम्बी व 60 मीटर चौड़ी व 5 मीटर गहरी नाडी की खुदाई की है। करीब 1 लाख 25 हजार सरकार का एक दिन मे विशनोई समाज के ट्रेक्टरो के मालिको व ड्राईवरों ने श्रमदान किया है। श्री गुरू जम्भेशवर भगवान इन भामाशाहो की मन की इच्छा पुरी करे। विशनोई समाज ने जीवो पर दया करते इतनी भीषण गर्मी मे रोही के वन्य जीवो व पशु पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए नाडि की खुदाई की है। जहां यह कल्ड़िया नाडी है उसके आस पास करीब 4-5 किलो मीटर है और पानी की कोई व्यवस्था नही है। इसलिए यह अभियान चालु करके और नाडि की खुदाई के पश्चात वन्य जीवो की प्यास बुझाने के लिए टैंकरो से पानी डाला डायेगा। नाडी की जमीन 70 बीघा पावितान है। जिसके आगोर की भी सफाई की है। एक बार जब वर्षा के पानी से नाडि भर जाती है तो 5-6 महिनो तक पानी रहता है। श्रमदान मे सहयोग देने वाले चौधरी जोधाराम सारण, भजनाराम थानेदार, कालुराम सारण चौधरी, बिरबलराम सारण, रामरखराम मांजू, सोमराज मांजु, सरपंच बद्रीनारायण भुतड़ा, गोरधनराम मांजु, रामलाल सारण, मलुराम शैतानाराम मास्टर, किशनाराम थानेदार, मानाराम माजु, सुखराम केजरीवाल माजु, भवरलाल अजाणी, हरचंद गोदारा, अशोक सारण, धीरज सारण, मांगीलाल सारण, प्रदीप सारण, छात्रनेता जगदीश मांजु, मनोहरसिंह स्वरूपा देवासी, फरसाराम सारण, राकेश माझु, श्रवण सारण, सुनिल सारण, हड़मान सारण, विशना कालिराणा, श्रवण छोगाणी, किशनसिंह राठौर, दिनेश गिला, पाचाराम गिला, ठाकुर कानसिह, पप्पू सेठ, सागाराम देवासी, जैसलाराम मेघवाल आदि समाज के गणमान्य लोग मौजुद थे।

Share This Post

Post Comment