ड्राइवर और हेल्पर को दो बाइक सवारों ने चाकू निकालकर पेट में अड़ा दिया

बिलासपुर, छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः छोटा हाथी लेकर रायगढ़ से रायपुर लौट रहे ड्राइवर और हेल्पर को दो बाइक सवारों ने शनिवार की रात 12:30 बजे पुलिस के जवान बनकर जांच के बहाने रुकवाया। गाड़ी खड़ी हुई तो चाकू निकालकर पेट में अड़ा दिया। जेब में रखे 5 हजार रुपए नगद और मोबाइल लूट लिया। ड्राइवर ने नजदीकी थाने की जानकारी ली और शिकायत पुलिस तक पहुंच गई। ड्राइवर ने लुटेरों की बाइक का नंबर याद कर लिया था, जिसके जरिए पुलिस आरोपी तक पहुंच गई। तोरवा पुलिस के मुताबिक गुड़ियारी (रायपुर) रामनगर निवासी पवन निषाद और उसका छोटा भाई जितेंद्र अपने छोटे हाथी में ट्रांसपोर्ट का सामान लेकर 11 मई को रायपुर गए थे। 14 तारीख की रात रायगढ़ से रायपुर लौट रहे थे। पवन गाड़ी चला रहा था जबकि उसका भाई हेल्परी कर रहा था। रात के 12:30 बजे लालखदान बाइपास पर धूमा चौक से पहले पहुंचे थे, तभी पीछे से बाइक में दो युवक आए। उन्होंने पुलिस वाले की तरह वाहन को जांच के लिए रोकने को कहा। गाड़ी के ठहरते ही बाइक में पीछे बैठे युवक ने चाकू निकालकर पवन के पेट पर अड़ा दिया। जेब में 5 हजार रुपए नगद थे और शर्ट की जेब में मोबाइल था। लुटेरे नगदी और मोबाइल लूट कर भागने लगे। पवन ने हेड लाइट जलाकर लुटेरों की बाइक का नंबर याद कर लिया। लुटेरे बाइक क्रमांक सीजी 10 पी 3302 में सवार थे। पवन ने तोरवा थाना पहुंचकर शिकायत की। पुलिस को लुटेरों के बाइक क्रमांक के अलावा चोरी गए मोबाइल का नंबर दिया। तोरवा पुलिस ने मोबाइल के लोकेशन के आधार पर आरोपी के महेश श्रीनिवास और पत्र दास मानिकपुरी को पकड़ लिया। दोनों युवक लोको कालोनी के रहने वाले हैं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 394, 34 के तहत अपराध दर्ज किया है।

Share This Post

Post Comment