मानहानि कानून के खिलाफ दायर अर्जी पर बड़ा फैसला

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः सुप्रीम कोर्ट ने आज मानहानि कानून के खिलाफ दायर अर्जी पर बड़ा फैसला दिया है. कोर्ट ने आपराधिक मानहानि पर जेल भेजने का कानून खत्म नहीं किया है और इस तरह राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, सुब्रमण्यम स्वामी पर चल रहे मुकदमों की फाइल फिर खुलेगी. कोर्ट ने आईपीसी की धारा 499 और 500 को संवैधानिक करार देते हुए अर्जी खारिज कर दी. आपको बता दें कि मानहानि कानून को लेकर अर्जी राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल और सुब्रमण्यम स्वामी की ओर से दायर की गई थी. कोर्ट ने अपने आदेश में साफ कहा है कि मानहानि कानून संवैधानिक है और इसे रद्द नहीं किया जाएगा, ये बना रहेगा. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में देश भर के मजिस्ट्रेटों को नसीहत दी और कहा कि मानहानि के निजी मामलों में समन जारी करने से पहले हड़बड़ी न दिखाएं, बल्कि सावधानी बरतें.

Share This Post

Post Comment