तीन माह की मासूम को उसकी दादी ने उतार दिया मौत के घाट

पुणे, महाराष्ट्र/नगर संवाददाताः उसकी उम्र महज तीन माह थी. उसने दुनिया नहीं देखी थी और रिश्तों को समझना भी शुरू नहीं किया था. लेकिन, उसे जो सजा मिली उसे बारे में सुनकर रूह कांप जाए. यह दर्दनाक घटना कहीं महाराष्ट्र के पुणे शहर की और मासूम को सजा देने वाला कोई और नहीं बल्कि उसी की दादी है. दरअसल, तीन माह की मासूम को उसकी दादी ने सिर्फ इसलिए मौत के घाट  क्योंकि वह पिछले कई दिनों से बीमार चल रही थी. मासूम को 50 साल की उसकी दादी ने अपने हाथों से ही उसे पानी के बैरल में डाल मौत की नींद सुला दिया. यही नहीं, पकड़े जाने के डर से बूढ़ी औरत ने दो महिलाओं के घर में घुसने की मनगढ़ंत कहानी भी सुना दी. यहां तक की अपने बेटे और बहू को भी बरगलाने की कोशिश की. लेकिन, जब पानी के बैरल में तीन माह के मासूम की लाश मिली तो पुलिस को सूचना दी गई. आरोपी महिला का नाम सुशीला है. पुलिस का कहना है कि परिस्थितियों से मिले सबूतों के आधार पर जब पूछताछ की गई तो आरोपी महिला ने कथित तौर पर अपना जुर्म कबूल लिया. पुलिस ने अनुसार सुशीला ने बताया कि तीन माह की बच्ची बीमार रहती थी. उसके इलाज में काफी पैसा खर्च हो रहा था. उनके परिवार पर काफी कर्ज था. ऐसे में उन्होंने इसे खत्म करने का फैसला किया था. जब उसके मां-बाप नहीं थे, तभी मासूम को पानी में डाल दिया. यही नहीं पुलिस को यह भी मालूम चला है कि इससे पहले आरोपी महिला अपनी एक अन्य बहू का जबरन गर्भपात भी करा चुकी है. बताया जा रहा है कि उसे मालूम हुआ था कि गर्भ में पलने वाला बच्चा लड़की है. पुलिस मामले की जांच में लगी है.

Share This Post

Post Comment