डाॅक्टरों की लापरवाही और कर्मचारियों की वसूली के चलते पत्नी की मौत

लखनऊ, युपी/नगर संवाददाताः अमीनाबाद की रहने वाली शीनू को प्रसव पीड़ा होने पर बीती 25 अप्रैल को उसके परिजन डफरिन अस्पताल लेकर आये थे। जिसके अगले दिन डाॅक्टर ने शरीर में खून की कमी बताकर उसके पति से ब्लड मंगवाया। पति महताब अली ने बताया कि खून कई दिनों तक रखा रहा। उसके बाद डाॅक्टरों ने 27 को ब्लड चढ़ाया फिर 28, 29 और 30 को ब्लड मंगाकर चढ़ाया गया। बीती रविवार को शाम साढ़े चार बजे शानू ने एक बच्चे को जन्म दिया। उसके बाद फिर डाॅक्टरों ने मरी लाश को आक्सीजन लगा दिया। बाद में पता चला कि वह एक घंटे पहले ही मर चुकी थी। मृतका के पति का आरोप है कि डाॅक्टरों की लापरवाही और कर्मचारियों की वसूली के चलते पत्नी की मौत हुई है।

Share This Post

Post Comment