सभी मेडिकल कॉलेजों में एक ही प्रवेश परीक्षा एनईईटी ही होगी

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः देश के सभी मेडिकल कॉलेजों में एक ही प्रवेश परीक्षा National Eligibility Entrance Test यानी एनईईटी ही होगी. सुप्रीम कोर्ट ने कल ये फैसला सुनाया था और आज भी ये साफ हो गया कि 1 मई को एनईईटी का पहला चरण होकर रहेगा. केंद्र सरकार समेत कई राज्यों ने एनईईटी को रोकने की मांग की थी. जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने आज सुनवाई से मना कर दिया. एबीपी न्यूज ने कई शहरों में मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों से बात की और ये जानने की कोशिश की कि वो क्या सोच रहे हैं एक ही टेस्ट एनईईटी पर. कितने तैयार हैं वो एनईईटी के लिए नोएडा के सेक्टर 61 में रहने वाली छात्रा विभूति गुप्ता को एक मई को एनईईटी की परीक्षा देनी है. विभूति परीक्षा से पहले परेशान हैं. विभूति का कहना है कि सभी छात्रों को बराबर मौका मिलना चाहिए. उन्हें तो तैयारी के लिए कम वक्त मिला लेकिन 24 जुलाई को दूसरे चरण में परीक्षा देने वालों को ज्यादा वक्त मिलेगा. मुंबई के छात्र राहुल भी मेडिकल की तैयारी में रात दिन जुटे हुए थे लेकिन एनईईटी ने उसे डरा दिया है. राहुल ने महाराष्ट्र बोर्ड के कॉलेज से पढ़ाई की. साल भर उसने राज्य में होने वाले कॉमन एंट्रेंस टेस्ट सीईटी की तैयारी की थी लेकिन अब एनईईटी के लिए उसे सीबीएसई कोर्स भी पढ़ना पढ़ रहा है

Share This Post

Post Comment