गौ कृपा महोत्सव का आयोजन

जयपुर, राजस्थान/भागचंद कुमावतः गौशाला से सैकड़ो गौर भक्त व श्री राम धमार्थ गौ सेवा संस्थान के सदस्यगण गौ कृपा महोत्सव में भाग लेने के लिए आसलपुर गांव स ेश्री गाधाम महातीर्थ आनंदवन पथमेडा के सानिध्य में चल रहा 8 अप्रैल को श्री मनोरमा गोलोक तीर्थ नंदगांव से शुक्रवार को 1008 तुलसी सलिगराम का ऐतिहासिक विवाह कार्यक्रम हुआ। जिसमें देशभर से सवेरे 9 बजे से 1008 गांवों से श्री जी सालिगराम भगवान की बरातों का आगमन प्रारंभ हो गया। हाथी-घोड़ों तथा बैंडबाजों और डीजे की धार्मिक धुन के साथ गगन चुंबी गो महिमा नारों से बारातें पूरे दिन आती रही। नंदगांव के पुराना आश्रम परिसर में श्री जी की बरातों की मेजबानी हुई। शाम 4 बजे बैंड बाजों से 10 हजार से अधिक नर नारी एवं बच्चों के जुलूस के साथ में श्री जी की 1008 बारातें चंवरी पर मुख्य मंडप तक पहुंची। तुलसी विवाह के 1008 माता पिता के जोड़े। इतने ही विप्र एवं 1008 ही गोमाताओं की उपस्थिति में गोधुलि वेला में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ तुलसी सालिगराम विवाह संपन्न हुए। विवाह स्थल पर हजारों बाराती एवं धराती नर नारी एवं बच्चे नाच झूम रहे थे। मंगल गीतों की स्वर लहरियों में पूरा माहौल अद्भुत गुंजायमान था। गोधाम पथमेडा के राष्ट्रीय प्रवक्ता पूनम राजपुरोहित ने बताया की रेवदर, मंडार, बड़गांव, जसवंतपुरा से भी मार्गो पर नंदगांव आने वाली जनमानस से सैकड़ों किलोमीटर तक बसो, कारों, जीपों आदि से पूरे दिन आवागमन रहा। लगभग 10 किमी में फैले नंदगांव परिसर में कदम रखने को भी जगह नहीं दिखी। रोजाना लगभग 1 से 1.5 लाख श्रद्धालु भोजन ग्रहण कर रहे है। पूरा नंदगाव स्वर्गानुभूति करवा रहा था। संतदर्शन के लिए उत्सुक आगंतुक गोमाताओं से घुलमिल कर सेवा कार्यों में भाग ले रहे थे। इस पावन अवसर पर श्री राम धर्माथ गौ सेवा संस्थान आसलपुर की ओर से सभी सदस्यों द्वारा सेवा कार्य किए जा रहे थे।

Share This Post

Post Comment