वेस्ट बंगाल के विधान सभा के चुनाव में नया प्रचार

कोलकाता, पश्चिम बंगाल/सुब्रत कुमारः वेस्ट बंगाल के विधान सभा के चैथे और पांचवे चरण के वोटिंग दिनांक 25.04.2016 और 30.04.2016 को कोलकाता शहर के भिन्न भिन्न विधान सभा क्षेत्र पर होगा। इस बार इलेक्शन का प्रचार में कुछ पोलिटिकल पार्टी जैसे टीएमसी अपने रणनीति में बदलाव है। अब हिंदी भाषी मतदाताओं को लुभाने के लिए हिंदी में प्रचार करना शुरू कर दिया है। यह देखा गया है बंगाल में लोग ज्यादा से ज्यादा बंगाली भाषा का ही उपयोग करते है। शहरी क्षेत्र जैसे कोलकाता शहर में भी आप अगर किसी बंगाली से हिंदी में बात करना चाहते हैं तो वो हिंदी जानते हुए भी आप से बंगाली में ही जवाब देगा। कोलकाता महानगर के कुछ क्षेत्र जैसे भवानीपुर, धर्मतला, गिरीशपार्क क्षेत्र जहां ज्यादा बिज़नेस कम्यूनिटि के हिंदी बोलने वाले वोटर रहते है। अब उन वोटर्स को लुभाने के लिए टीएमसी अपना प्रसार हिंदी माध्यम से करना शुरू कर दिया है। क्योंकि इस बार टीएमसी के लिए करो या मरो वाली परिस्थिति है। चुनाव के शुरूआत में ही टीएमसी दुविधा में फंस गया है। पहला टीएमसी के कुद नेताओं को पैसे लेते हुए एक घरेलू टीवी चेनल दिखाया फिर पहले ओवर के बाद इसमें पार्टी के कुछ लोगों द्वारा मेटिरियल सप्लाई का मामला सामने आया है। टीएमसी के लिए अब मां, मती, और मानुष जैसी भावुक स्लोगन पुराना हो गया है। इसलिए लोगों को लुभाने के लिए हिंदी में प्रचार शुरू कर दिया है।

Share This Post

Post Comment