कचहरी में वकीलों ने दरोगा को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

कानपुर, यूपी/कमल कुमार शर्माः कानपुर कचहरी मं मंगलवार को दरोगा की एक गलती पर वकीलों अराजकता की सारी हदें पार कर दी कल्याणपुर के केशवपुरम में दो दिन पहले घर के बाहर टैंपो ड्राइवर अजय उर्फ बच्चा को गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसमें मृतक की पत्नी रेखा ने परमर निवासी सुनील पर हत्या का अरोप लगाकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रेखा का आरोप यह है कि बच्चा की बहन से सुनील के अवैध संबंध थे जिसका विरोध करने पर ही सुनील ने बच्चा की हत्या कर दी। पुलिस ने रवीवार की शाम को गिरफ्तार किया था बताया जा रहा है कि वकील है। मंगलवार को दरोगा विजय प्रताप सिंह दो सिपाहियों के साथ उसको रिमांड के लिए कोर्ट लाए तो वकीलों ने उसके हाथ पर बंधी हथकड़ी को देख भड़क गए वकील न दरोगा से हथकड़ी खोलने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया इसी बीच सुनील ने मारने पीटने का आरोप लगाया तो वकील इस तरह भड़क गए की उन्होंने दरोगा के साथ हाथापाई शुरू कर दी। घबराया हुआ दरोगा वकीलों को धक्का दे कर भाग निकला। तो वकीलों ने उसको दौड़ाकर पीटना शुरू कर दिया वकीलों ने उसकी वर्दी फाड़ दी वो उसको रजीस्ट्री गेट तक पीटते हुए ले गए सूचना पर करीब एक दर्जन थाने की फोर्स एसओ और सीओ मौके पर पहुंचे तो वकीलों ने उनको घेरकर नारेबाजी शुरू कर दी कोर्ट ने मामले को संज्ञान में लेते हुए विवेचक सीओ को तलब कर लिया वहीं मामले को गिगड़ते देख वार और लयर्स पदाधिकारियों ने पुलिस के आला अफसर से बात कर दरोगा पर कार्यवाही का भरोसा दिलाया जिसे सुनकर वकील शांत हुए।

Share This Post

Post Comment