गरीबों की सेवा करना सर्वोपरि धर्म है-शर्फूदीन मोहम्मद काशमी

मुजफ्फरपुर, बिहार/विशेष कुमारः मुजफ्फरपुर बिहार का एक समाज सेवा के क्षेत्र में जाना पहचाना नाम है। इन्होंने अपनी काबिलियत और बुलंद हौसले से यह कर दिखाया है जिसे हम सिर्फ कल्पना कर सकते है वास्तविक में नहीं। काजमी जी अपने क्षेत्र में लालू भाई के नाम से प्रसिद्ध है ये हर उस गरीब के मसीहा है जिनके पास न खाने को रोटी है और न ही तन ढकने के लिए कपड़ा। लालू भाई के बारे में यह भी नहीं कह सकते है कि ये एक संपन्न (आर्थिक) परिवार से है। इनका कोई भी अपना व्यवसाय नहीं है। वे एक बीमा कंपनी के साधारण एजेंट है। लेकिन फिर भी गरीब दबे कुचले की मदद करने में वे कोई कसर नहीं छोड़ते है। इनकी एक अपनी स्वयं सेवी संस्था है जिसका नाम ”अल मोमनीन वेलफेयर फाउंडेशन“ है जिसने कई अनगिनत समाज सेवी कार्य किए है, जिसका कहीं कोई उल्लेख नही है। इन्होंने अपने संस्था के माध्यम से कंबल वितरण, अनाज इत्यादि निशुल्क दान दिए है। आज से छह साल पहले इन्होंने यह कार्य शुरू किया था। उस वक्त इनकी आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं थी। फिर भी इन्होंने हिम्मत नहीं हारी और अपनी कमाई का आध से अधिक हिस्सा खर्च कर दिया। कुछ दिनों पहले मुजफ्फरपुर से सटे एक क्षेत्र में दो सकुदाय के बीच मतभेद हो गया था जिससे कफर््यू की स्थिति बन गई थी। वहां लोगों के बीच जाकर उनमें आपसी सुलह करवाई जिससे उन्हें प्रशासन की ओर से प्रशंसा से किसी गरीब के चेहरे पर खुशी मिलती है तो ये मेरे लिए करोड़ो रूपये के बराबर है। हमारे समाज को ऐसे ही सेवक की जरूरत है।

Share This Post

Post Comment