शुक्रवार को जिले में कई जगह छापेमारी

फीरोजाबाद, उत्तर प्रदेश/शुभम अग्निहोत्री : खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम ने शुक्रवार को जिले में कई जगह छापेमारी कर खाद्य पदार्थो के नमूने लिए। इससे खाद्य सामग्री विक्रेताओं में खलबली मच गई। टीम ने कुल तीन स्थानों से चार नमूने लिए। सिटी मजिस्ट्रेट रवींद्र कुमार के नेतृत्व में खाद्य विभाग की टीम सुबह 11 बजे लेबर कॉलोनी पहुंची। यहां तिराहा स्थित जैन स्वीट हाउस पर छापेमारी की गई। यहां टीम को लाइसेंस नहीं मिला। दुकान मालिक सुशील जैन ने जल्द ही लाइसेंस बनवाने का भरोसा दिया। इसके बाद विभागीय अधिकारियों ने बर्फी का नमूना लिया। पड़ोस में किराना की दुकान से मूंग की दाल का सैंपल भी लिया गया। कार्रवाई के दौरान राहगीरों की भीड़ भी एकत्रित हो गई। सिटी मजिस्ट्रेट के साथ रहने से अन्य दुकानदार भी परेशान दिखे। जिन दुकानदारों के पास पॉलीथिन रखी हुई थी, उसे इन्होंने छुपा दी। यहां से टीम मटसेना रोड स्थित गाजीपुर में जेपी डेयरी पर पहुंची। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी एसके ¨सह ने बताया कि डेयरी मालिक चंद्रपाल की मौजूदगी में वहां से दूध और घी का नमूना लिया। सभी नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। श्रम विभाग में तीन गैरहाजिर मिले: सटी मजिस्ट्रेट ने शुक्रवार को गृह निरीक्षक कार्यालय का निरीक्षण किया। यहां उन्हें कोई नहीं मिला। इसके बाद वह सहायक श्रमायुक्त कार्यालय पहुंचे। यहां उन्हें तीन कर्मचारी गैर हाजिर मिले। इनमें से एक न्यायालय गए हुए थे। जबकि एक सिटी मजिस्ट्रेट के सामने कार्यालय आए। कौशल विकास मिशन का जाना हाल: जिला उद्योग केंद्र में कौशल विकास मिशन के तहत चल रहे प्रशिक्षण कार्यक्रमों का जायजा भी सिटी मजिस्ट्रेट ने लिया। उपायुक्त उद्योग जिला उद्योग केंद्र सुधीर कुमार श्रीवास्तव ने उन्हें बताया कि जिले में उद्योग केंद्र समेत कुल चार स्थानों पर प्रशिक्षण केंद्र चल रहे हैं। जहां ट्रेड हैंड एंब्रायडर, ब्यूटी थैरेपी एंड हेयर स्टाइ¨लग और कंप्यूटर आदि में 2500 लाभार्थी शामिल हो रहे हैं। जो महिलाएं जरी जरदोजी का कार्य सीख रही हैं, उन्हें जॉब वर्क भी दिया गया है।

Share This Post

Post Comment